प्रेम विवाह करने से नाराज लड़की के परिजनों ने युवक की मां को दिनदहाड़े घर से बाहर खींच लिया। उन्हें गली में घसीटते हुए निर्वस्त्र कर दिया और पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। गंभीर रूप से घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। देर शाम पीड़ित महिला के पति ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

बरेली के फरीदपुर के एक गांव की महिला ने बताया कि उनके बेटे ने गांव की एक लड़की से पिछले साल नवंबर में प्रेम विवाह कर लिया था। बाद में लड़की के परिजनों से रंजिश के चलते उन्होंने बेटे को हरियाणा में मजदूरी करने के लिए पत्नी के साथ भेज दिया। आरोप है कि शनिवार को परिवार के लोग खेत पर काम करने गए थे। घर में वह अकेली थी। उसी दौरान लड़की पक्ष के छह लोग लाठी-डंडे लेकर जबरन घर में घुस आए। उन्होंने लड़के की मां को घर से गली में खींच लिया। 

हमलावरों ने महिला को निर्वस्त्र करके पीटना शुरू कर दिया। महिला की चीख-पुकार सुनकर गांव के लोग जब मौके पर पहुंचे तो आरोपी धमकी देते हुए भाग गये। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने गंभीर रूप से घायल महिला को फरीदपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से उन्हें बरेली जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। सीओ फरीदपुर एसके राय ने बताया कि पीड़ित महिला के पति की तहरीर पर आरोपी राजेश्वर, धर्मपाल, यदुवीर और धम्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। महिला का मेडिकल कराया गया है। मामले की जांच की जा रही है। आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है।

कोर्ट में लड़की ने दिये थे प्रेमी के पक्ष में बयान

पीड़ित महिला का कहना है कि प्रेम विवाह के बाद युवती के परिजनों ने युवक के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने लड़की को बरामद करके कोर्ट में पेश किया था। कोर्ट में उसने प्रेमी के पक्ष में बयान दिए थे। इसके बाद दोनों ने नवंबर माह में ही कोर्ट मैरिज भी कर ली थी।

गांव छोड़कर भागने का बना रहे दबाव

पीड़ित महिला के पति ने बताया उसके बेटे के प्रेम विवाह करने के बाद लड़की के परिजनों को गांव के कुछ लोग उकसा रहे हैं। इसलिए वे लोग उन्हें गांव छोड़कर भाग जाने का दबाव बना रहे हैं।

पीड़ित महिला का कहना है कि नवंबर में बेटा और उसकी प्रेमिका घर छोड़कर चले गए थे। प्रेमिका के परिजनों ने युवक के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने लड़की को बरामद करके कोर्ट में पेश किया था। कोर्ट में उसने प्रेमी के पक्ष में बयान दिए थे। इसके बाद दोनों ने नवंबर माह में ही कोर्ट मैरिज भी कर ली थी। पीड़ित महिला के पति ने बताया उसके बेटे के प्रेम विवाह करने के बाद लड़की के परिजनों को गांव के कुछ लोग उकसा रहे हैं। इसलिए वे लोग उन पर गांव छोड़कर भाग जाने का दबाव बना रहे हैं। 

सीओ फरीदपुर एसके राय ने बताया कि पीड़ित महिला के पति की तहरीर पर आरोपी राजेश्वर, धर्मपाल, यदुवीर और धम्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। महिला का मेडिकल कराया गया है। मामले की जांच की जा रही है। आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है।